Thursday, July 18, 2024

Rath Yatra 2024: आज से रथ यात्रा की शुरुआत, कितने दिन रुकते हैं भगवान जगन्नाथ मौसी के घर

लखनऊ: आज रविवार, 7 जुलाई से भगवान जगन्नाथ रथ यात्रा की शुरुआत होगी। आज से लेकर पूरे 10 दिनों तक भगवान जनमानस के बीच रहेंगे. हिंदू पंचांग के अनुसार, हर साल आषाढ़ शुक्ल पक्ष की द्वितिया तिथि को रथ यात्रा मनाई जाती है। मान्यता है कि रथ यात्रा के दौरान भगवान अपने भाई बलराम और बहन सुभद्रा के साथ मौसी के घर जाते हैं। इस पर्व को देश भर में बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है, लेकिन ओड़िशा के पूरी शहर में स्थित भगवान जगन्नाथ मंदिर में भव्य रथयात्रा निकाली जाती है।

गुंडीचा भगवान जगन्नाथ की मौसी का घर

बता दें कि यह यात्रा दुनियाभर में प्रशिद्ध है। इस दौरान देश विदेश से लोग पहुंचते हैं। ऐसा इसलिए करते है क्योंकि माना जाता है कि रथ यात्रा के दर्शन मात्र से व्यक्ति को हजारों यज्ञों के पुण्य प्राप्त होते हैं। आज तीनों भगवान रथ में सवार होकर गुंडीचा मंदिर की तरफ प्रस्थान करेंगे इसके बाद सोमवार या मंगलवार तक भगवान गुंडीचा मंदिर पहुंच जाएंगे और 15 जुलाई तक यहीं रुकेंगे, फिर 16 जुलाई को सभी देवी-देवता को वापस जगन्नाथ मंदिर लाया जाएगा। यह परंपरा सदियों से चलती आ रही है। यहां भगवान के लिए तरह-तरह के पकवान बनाए जाते हैं। बता दें कि गुंडीचा को मौसी का घर माना जाता है।

क्यों खास है रथ यात्रा

भक्तों के लिए रथयात्रा इसलिए अधिक खास होता है कि इस दौरान भगवान मंदिर से बाहर निकल कर भक्तों को दर्शन देते हैं। इस वजह से रथयात्रा को अधिक खास बताया गया है। वहीं इस पर्व को भाई बहन की पूजा का पर्व माना जाता है।

आज से शुरू होगी यात्रा

-वैदिक पंचांग के मुताबिक, जगन्नाथ रथ यात्रा 07 जुलाई को सुबह 8:05 बजे से शुरू हो चुकी है.

– यह यात्रा सुबह 09 बजकर 27 मिनट तक निकाली गई है.
– इसके बाद यात्रा दोपहर 12 बजकर 15 मिनट से फिर से शुरू होगी.
– इस बार यात्रा 01 बजकर 37 मिनट पर विश्राम लेगी.
– इसके बाद शाम 04 बजकर 39 मिनट से यात्रा शुरू होगी.
– अब यह यात्रा 06 बजकर 01 मिनट तक चलेगी.

Latest news
Related news