Thursday, July 18, 2024

राहुल गांधी ने CM योगी को लिखी खत, मुआवजे की राशि बढ़ाई जाए

लखनऊ : कांग्रेस नेता सह लोकसभा में विपक्ष के नेता राहुल गांधी ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को हाथरस हादसे को लेकर पत्र लिखी है। खत लिखते हुए राहुल गांधी ने सीएम योगी से हादसे में जान गंवाने वाले व घायल लोगों के लिए अधिक से अधिक मुआवजे देने की मांग की है। बता दें कि हादसे से ठीक कुछ दिन बाद ही राहुल हाथरस पहुंचकर पीड़ितों से मुलाकात की थी। ज्ञात हो कि हाथरस में नारायण साकार हरी उर्फ़ भोलेबाबा के सत्संग के दौरान भगदड़ मची, जिसमें 121 लोगों की जान गई और कई लोग घायल भी हुए थे।

पत्र लिखते हुए राहुल ने की ये मांग

हाथरस घटना के बाद राहुल गांधी ने सीएम योगी को पत्र लिखते हुए कहा, “हाथरस में भगदड़ हादसे से प्रभावित पीड़ित परिवारों से मुलाकात कर, उनका दुख महसूस कर और समस्याएं जान कर उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी को पत्र के माध्यम से उनसे अवगत कराया। मुख्यमंत्री जी से मुआवजे की राशि को बढ़ाकर शोकाकुल परिवारों को जल्द से जल्द प्रदान करने का आग्रह किया। इस दुख की घड़ी में उन्हें हमारी सामूहिक संवेदना और सहायता की आवश्यकता है।”

पीड़ितों से मिलने के बाद राहुल ने कही ये बात

हाथरस हादसे के बाद शुक्रवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी हाथरस पहुंचे, जहां उन्होंने पीड़ित परिवारों से मुलाकात की। जिसके बाद मीडिया से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा था, ‘‘यह दुख की बात है कि इतने परिवारों को कष्ट सहना पड़ा, इतने लोगों ने अपनी जान गंवा दी.’’ वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘मैं राजनीतिक नजरिए से बात नहीं करना चाहता, लेकिन प्रशासन की ओर से कुछ चूक हुई है. गलतियां हुई हैं और उनकी पहचान की जानी चाहिए.’’ गांधी ने कहा कि पीड़ित परिवारों के लिए यह कठिन समय है और उन्हें जल्द से जल्द मुआवजा चाहिए क्योंकि वे गरीब हैं. “

कांग्रेस नेता राहुल ने आगे कहा, “मृतकों के परिजन ने कहा कि प्रशासन की ओर से चूक हुई है. पुलिस की जो व्यवस्था होनी चाहिए थी वो नहीं थी. वे दुखी हैं, सदमे में हैं. मैं उनकी स्थिति को समझने की कोशिश कर रहा हूं.’’ वहीं अब इस घटना को लेकर योगी सरकार ने उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया हैं। योगी सरकार ने कोर्ट के एक सेवानिवृत्त न्यायाधीश की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय न्यायिक आयोग का गठन किया, जो इस हादसे का जांच कर रहा है कि इस सभा में मची भगदड़ के पीछे कोई साजिश तो नहीं की गई थी।

Latest news
Related news